लगता है पंजाब के कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने विवादों में रहने की ठान ली है ।

वीरवार को सिद्धू ने इमरान खान इमरान खान ने इमरान खान इमरान खान की तारीफ करते हुए कहा कि भारतीय पायलट को छोड़ने का फैसला बेहद सुकून भरा है जिसने करोड़ों लोगों और देश को खुश कर दिया है।

सिद्धू के ट्वीट के बाद तुरंत उन पर हमला भी शुरू हो गया। जितेश कोटिया ने अपने ट्वीट में कहा कि हम अभिनंदन के बदले पाकिस्तान को सिद्धू देने को तैयार हैं।

उधर जितेश कोठियां के जवाब में शफीक हमीद ने कहा की पाकिस्तान सिद्धू को खुशी के साथ स्वीकार करेगा क्योंकि वह शांति की कीमत पहचानते हैं।

शाफिक हमीद को कलवारी ने कहा कि क्या आप लोग मसूद और हाफिज सैयद और हाफिज सैयद के जरिए शांति हासिल करना चाहते हैं ।उसके बाद संदीप देशमुख ने हाफिज सैयद,मसूद अजहर और दाऊद इब्राहिम को सौंपने की मांग भी कर डाली।

डिजिटल रैंबो हेंडल से सिद्धू और पाकिस्तान को लताड़ लगाते हुए कहा गया कि यह पाकिस्तान की कोई दरिया दिली नहीं है बल्कि अंतरराष्ट्रीय दबाव है जिसके चलते उसे भारतीय पायलट को भारत को सौंपना पड़ रहा है।

अंशु सिंह ने नवजोत सिंह सिद्धू से पूछा कि जब भारतीय पायलट को मारा पीटा जा रहा जा रहा था तो उस वक्त वह कहां थे। मैं सचमुच आप से नफरत करती हूं सर ।आपको कोई हक नहीं है कि आप भारत में रहे आप पाकिस्तान चले जाइए आप पाकिस्तान चले जाइए और शांति से रहिए।

भषड नाम के टि्वटर हैंडल से सिद्धू का मजाक उड़ाते हुए कहा गया सुनो भाइयों सुनो पाकिस्तान का दल्ला फिर भौंक रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here