सेवानिवृत्त सुप्रीम कोर्ट के जज पिनाकी चंद्र घोष को भारत का पहला लोकपाल नियुक्त किया गया है।

इसके अलावा भारत के राष्ट्रपति द्वारा दिनेश कुमार जैन ,अर्चना रामासुंदरम ,महेंद्र सिंह और आईपी गौतम को लोकपाल का सदस्य नियुक्त किया गया है।

लोकपाल क्या है

लोकपाल कानून की अधिसूचना 5 साल पहले जारी की गई थी लोकपाल 3 सदस्य भ्रष्टाचार निरोधक संगठन है जिसमें एक चेयरमैन एक जुडिशल और एक non-judicial सदस्य होता है।

लोकपाल नियम के तहत केंद्र में एक लोकपाल और लोकायुक्त लोकायुक्त जनसेवक यानी कर्मचारियों और अधिकारियों के खिलाफ दर्ज भ्रष्टाचार के मामलों की दर्ज जांच करते है।

पिनाकी चंद्र घोष का कैरियर

67 वर्षीय जस्टिस पिनाकी चंद्र घोष 2017 से राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग के सदस्य हैं। वह सुप्रीम कोर्ट से 27 मई 2017 को सेवानिवृत्त हुए थे उन्होंने 8 मार्च 2013 को सुप्रीम कोर्ट के जज के रूप में पदभार संभाला था।

पिनाकी चंद्र घोष कोलकाता हाई कोर्ट के पूर्व जज हैं । वह आंध्र प्रदेश हाई कोर्ट के चीफ जस्टिस भी रह चुके हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here