खाना और सेहत

हमारा खाना और सेहत जीवन का आधार है। ज्यादा खाना बनाना या बचा हुआ खाना न केवल आपका समय बचा सकता है बल्कि बजट भी ।

बचे हुए खाने का इस्तेमाल करना खाने की बर्बादी रोकने का भी एक जरिया है। लेकिन अगर बचे हुए खाने को अच्छी तरह स्टोर ना किया जाए तो वह बर्बादी और बीमारी दोनों का कारण बन सकता है ।

आप सोच रहे होंगे कि आखिर बचे हुए खाने को कब तक सुरक्षित रखा जा सकता है।

खाना और सेहत सीरीज में हम आपको बता रहे हैं कि आप बचे हुए खाने को कब तक इस्तेमाल में ला सकते हैं।

बचा हुआ खाना और उसके किस्में

खाना और सेहत का आपस में गहरा रिश्ता है। बचा हुआ खाना कब तक सुरक्षित रहेगा और हमारी सेहत के लिए फायदेमंद रहेगा यह जानना जरुरी है . खाना कब तक सुरक्षित रहेगा यह तीन बातों पर निर्भर करता है।

एक- कि इसे हमने किस तरह से पकाया और दूसरे- उसको हमने कैसे स्टोर किया। और तीसरी खाना किस तरह का था और उसमें क्या-क्या मिला था।

जैसे उबली हुई सब्जियां, तला और भुना हुआ खाना ,डेरी प्रोडक्ट जैसे दूध ,पनीर आदि। खाने की किसमें तय करती हैं कि वह कितनी जल्दी खराब होगा या कितनी देर तक चलेगा ।

कुछ खानों में कुदरती तौर पर pathogen यानी जीवाणु और हानिकारक तत्व पैदा करने की क्षमता होती है जो आपको बीमार कर सकता है।

खाने को अगर खराब होने से बचाना है तो आपको ध्यान देना होगा कि उस खाने में क्या-क्या डाला गया था।

कुछ खाद्य पदार्थ जल्दी खराब होने वाले होते हैं । जिस खाने में मिलाए जाए उसकी प्रिजर्वेशन को भी प्रभावित करते हैं।

जैसे दूध या मांस से बने हुए खाद्य पदार्थ जो जल्दी खराब होते हैं।

बचे हुए खाने को सुरक्षित रखने का एक सीधा सा नियम है कि इसे ज्यादा से ज्यादा 3 दिन तक खाया जा सकता है।

पके हुए फलों और सब्जियों को जल्दी से जल्दी खा लें

खाने से पहले हरी सब्जियों और फलों को साफ पानी से अच्छी तरह धोया जाना चाहिए ।आप फल और सब्जियों को जितनी जल्दी खा लें उतना बेहतर है।

धो कर काटे गए फल ज्यादा से ज्यादा 3 से 5 दिनों के भीतर सुरक्षित रहते हैं । उसके बाद वह अपनी ताजगी खोने लगते हैं।

एयरटाइट कंटेनर में रखी गई पकी हुई सब्जियां 3 से 7 दिनों तक फ्रिज में सुरक्षित रहती हैं।

पकाई गई प्रिजर्वेटिव (canned) वाली सब्जियां जैसे बीन और दालें 7 से 10 दिनों तक सुरक्षित रखी जा सकती हैं।

जिन फलों और सब्जियों में पानी की मात्रा ज्यादा होती है वह जल्दी अपनी ताजगी खोते हैं। जैसे टमाटर, खीरा और स्ट्रौबरी आलू ,केले आदि की तुलना में जल्दी खराब होते हैं।

ज्यादा दिन तक फ्रिज में न रखें ब्रेड और बेकरी उत्पाद

ब्रेड या डबल रोटी एक ऐसा खाद्य पदार्थ है जो जल्दी खराब नहीं होता। घर में बनाई गई ब्रेड कमरे के तापमान में भी 3 दिनों तक सुरक्षित रहती है ।जबकि बाजार से खरीदी गई ब्रेड 5 से 7 दिनों तक इस्तेमाल में लाई जा सकती है।

फ्रिज में ब्रेड को 3 से 5 दिनों तक सुरक्षित रखा जा सकता है। लेकिन ज्यादा दिनों तक फ्रिज में रखने से ब्रेड की क्वालिटी कम होती जाती है।

खुरदरा अनाज ज्यादा दिन तक रहता है सुरक्षित

अच्छी तरह सुरक्षित रखे गए ज्वार -बाजरा और पकाया गया पास्ता 3 दिनों तक सुरक्षित रह सकता है ।

अगर आप इन खाद्य पदार्थों को पकाने के बाद फ्रिज में रख दें तो 3 महीने तक सुरक्षित रह सकते हैं। डेजर्ट और मिठाइयां लगभग 3 से 4 दिनों तक फ्रिज में रखी जा सकती हैं।

जल्दी ख़राब होने वाले खाने से हो सकती है फ़ूड प्वाइजनिंग

जिन खानों में फूड प्वाइजनिंग वाले तत्व मिले होते हैं वह भी जल्दी खराब होते हैं।

जिस खाने में प्रोटीन और आद्रता ज्यादा होती है उनको ज्यादा दिनों तक सुरक्षित रखना संभव नहीं है । क्योंकि इनमें जल्दी ही बैक्टीरिया पनपने लगते हैं।

पके हुए चावल को तीन दिन के भीतर खा लें

बासी चावल खाने से भी आप बीमार पड़ सकते हैं । क्योंकि 3 दिनों के बाद चावल में Bacillus cereus नामक bacterium होता है जो जहरीले पदार्थों को जन्म देता है। जिससे फूड प्वाइजनिंग होने का खतरा बना रहता है।

चावल को पकाने के एक घंटे के भीतर आप इसे फ्रिज में रखते हैं । इसका इस्तेमाल 3 दिनों के भीतर कर ले।

मांसाहार तीन से चार दिन के भीतर खा लें

अच्छी तरह पकाया गया चिकन और मीट फ्रिज में ज्यादा से ज्यादा दो दिनों तक सुरक्षित रहता है । लेकिन इसे 41 डिग्री फॉरेनहाइट या 5 डिग्री सेंटीग्रेड तापमान में ही रखा जाना चाहिए।

मीट से बने हुए दूसरे पदार्थ जैसे स्टिक्स ,फ़िलेट्स ,चॉप्स और रोस्टस को फ्रिज में 3 से 4 दिनों तक रखा जा सकता है।

लेकिन अगर आप फ्रोजन मीट प्रोडक्ट्स को एक बार फ्रीज से निकाल चुके हैं तो उन्हें 2 दिनों के भीतर पका लें।

इसके अलावा कोल्ड डेली सैलेड जैसे अंडा ,टूना या चिकन सलाद भी 3 से 5 दिनों के भीतर खा लिया जाना चाहिए।

 उबले हुए बासी अंडे , सूप और स्टू खाने से परहेज करें

अंडा खाना यूं तो स्वास्थ्यवर्धक है लेकिन बासी अंडों के जरिए सालमोनेला नामक बैक्टीरिया शरीर में पहुंच सकता है । छिलके समेत उबाले के अंडों को फ्रिज में रखें 7 दिनों के भीतर खा ले।

सेल्फिश और मछली बेहद नाजुक खाद्य पदार्थ हैं और खतरनाक भी । इनके भीतर टॉक्सिन जैसे histamine पैदा होने का खतरा रहता है जो आप को बीमार कर सकते हैं।

पकी हुई मछली और सेल्फिश को 3 दिनों के भीतर खा ले।

फ्रिज में रखा सूप और स्टू जिसमें मीट या मछली मिली हो या ना मिले हो तो भी 3 से 4 दिनों के भीतर खत्म कर लिया जाना चाहिए।

क्यों रेस्टोरेंट से बेहतर होता है घर में बना खाना

घर में बने और रेस्टोरेंट में बने खाने में बहुत फर्क होता है ।

अपने आप बनाए गए खाने के बारे में आपको पता है कि आपने इसमें क्या -क्या मिलाया है। जबकि रेस्टोरेंट्स से मंगाए गए खाने में मिलाए गए इंग्रेडिएंट्स के बारे में आपको जानकारी नहीं होती कि वह कितने ताजा थे।

इसलिए जरूरी है कि आप रेस्टोरेंट से मंगाए गए खाने को जल्दी से जल्दी खा ले।

वही अपने घर के बनाए गए खाने को आप मजे से 3 से 4 दिनों के भीतर खा सकते हैं।

ध्यान रहे की अगर बचे हुए खाने में जल्दी खराब होने वाले पदार्थ जैसे कच्ची मछली या कच्ची सब्जियां मिलाए गए हैं तो उनको 24 घंटों के भीतर खत्म कर लिया जाना चाहिए।

खाना खराब हो चुका है या नहीं कैसे पता लगाएं

फ्रिज में रखा हुआ खाना खाने लायक है या फिर खराब हो चुका है इसको आप सूंघ कर और देखकर महसूस कर सकते हैं।

सबसे पहले खाने के टेक्सचर में आए बदलाव पर ध्यान दें। खाने के मोल्ड और रंग मैं बदलाव आ सकता है ।जैसे सफेद हरा ,ऑरेंज ,लाल पिंक या काला।

यानी खाने का रंग बदल जाने के बाद पता चल जाता है कि अब यह खाना फेंकने लायक है।

अगर खाने के ऊपर झाग पैदा हुआ है तो उसे कभी भूल कर भी सूंघने की कोशिश ना करें। क्योंकि इसकी बदबू से आप बीमार हो सकते हैं।

डेलीमीट जिनमें एक पतली फिल्म दिखाई देने लगे उसे तुरंत फेंक दें। खाने में अगर किसी तरह की खट्टी या गंदी स्मेल आ रही है तो उसे फेंकना बेहतर है।

अगर खाने का रंग बदल गया है तो भी उसे फेंकने में ही बेहतरी है।

अगर खाने से किसी तरह की बदबू या फिर उसका रंग ना भी बदले तो भी एक बार उसे चख लें । अगर जरा भी स्वाद में फर्क लगे तो तुरंत फेंक दें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here