मंगलवार को एक भारतीय मिग विमान क्रैश होने के बाद पैराशूट से पाकिस्तान उतरे भारतीय जांबाज़ कमांडर अभिनंदन के साथ जमीन पर मौजूद पाकिस्तानियों ने बर्बरता की।

उनको लहू- लुहान करने के बाद गिरफ्तार किया गया।उसके बाद उनकी आंखों पर पट्टी बांध कर वीडियो बना कर सोशल मीडिया पर शेयर किया गया। जब वीडियो वायरल हुआ तो तीसरा वीडियो सामने आया जिसमें कमांडर अभिनंदन को कॉफ़ी पीते दिखाया गया।

अंतराष्ट्रीय मानवाधिकार कानून के अलावा पाकिस्तान ने जेनेवा संधि का उल्लंघन भी किया। लेकिन जब मामला अंतराष्ट्रीय स्तर पर उछला तो पाकिस्तान के तेवर ढीले पड़ गए।

पाकिस्तान को याद रखना चाहिए कि 1965 में उनके 125 पैरा कमांडो और 1971 में 90 हज़ार ओक सैनिकों को युद्ध बंदी बनाया गया था । क्या उनके साथ भी ऐसा कुछ हुआ था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here