आपने डॉक्टरों द्वारा अक्सर मरीज के पेट में अपने औजार छोड़ने की खबरें तो पढ़ी या सुनी होगी लेकिन हरियाणा के पंचकूला सिविल अस्पताल के डॉक्टरों ने तो मेडिकल लापरवाही ( medical negligence ) के सारे रिकॉर्ड तोड़ दिए । मरीज को एमआरआई मशीन (MRI Scanner) में लिटा कर बाहर निकालना ही भूल गए।

59 साल के रामहर लोहान का जब मशीन में मशीन में दम घुटने लगा तो उन्होंने मशीन की बेल्ट तोड़कर किसी तरह से बाहर आकर सांस ली।

लापरवाह अस्पताल के तकनीशियन आधे घंटे से भी ज्यादा समय तक रामहर को मशीन में रखे रहे । इस बीच मशीन के तापमान से उनको घुटन हुई और वो तड़पते रहे लेकिन कोई मदद के लिए आगे नहीं आया।

सरकार अब जांच करने की बात तो कर ही है लेकिन जांच का नतीजा क्या निकलेगा वही लीपापोती और कर्मचारियों को बचाने की कोशिश। अगर आप इसे अच्छे दिन मानते हैं तो फिर तैयार रहिए कि कोई डॉक्टर या तो आपके पेट में अपने औजार छोड़ता रहेगा या फिर मरीज मशीन के भीतर ही दम तोड़ते रहेंगे

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here