मोबाइल फोन पर यूट्यूब जैसे सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स का इस्तेमाल करने वालों की संख्या जैसे जैसे बढ़ रही है वैसे ही इन प्लेटफॉर्म्स का इस्तेमाल अब सूचना और समाचार के लिए भी किया जाने लगा है।

यूट्यूब पर लाखों न्यूज़ चैनल है जिनके जरिए हर रोज़ छोटे-छोटे कस्बों की खबरें आप तक पहुंचाई जाती हैं।आप ना केवल अपना यूट्यूब न्यूज़ चैनल शुरू करके बल्कि दूसरे चैनलों के लिए काम करके भी पैसा कमा सकते हैं।

Mobile Journalism : टीवी पत्रकारिता में बढ़ता  स्मार्टफोन का दखल

सोशल मीडिया का ज्यादातर इस्तेमाल मोबाइल फोन के जरिए ही हो रहा है। बाज़ार में एचडी यानी हाई डेफिनेशन फोन (high definition smart phone) उपलब्ध है जिनमे हाई रेसोलुशन तस्वीरें  खेंचने वाले कैमरे लगे हैं। आप आसानी से इस फोन की मदद से अच्छे वीडियो बना सकते हैं।

स्मार्टफोन की बढ़ती लोकप्रियता का असर अब टेलीविजन न्यूज़ चैनलों पर भी देखा जा रहा है ।कई न्यूज़ चैनल जैसे एनडीटीवी ,आज तक  और इंडिया न्यूज आदि अब समाचार शूट करने या फिर रिपोर्टर लाइव करने के लिए स्मार्टफोन का इस्तेमाल कर रहे हैं। भारी भरकम टेलीविजन कैमरों के मुकाबले  एक और जहां स्मार्टफोन सस्ते और इस्तेमाल में आसान हैं, वही इसमें मौजूद जीपीआरएस की सुविधा के इस्तेमाल से वीडियो भेजना भी आसान हो गया है । न्यूज़ चैनल के पत्रकारों द्वारा अब OB Van यानी आउटडोर वैन या फिर लाइव यू जेसीबी मशीनों का का इस्तेमाल कम किया जा रहा है।

कैसे बनाऐं मोबाइल फोन से न्यूज़ वीडियो

बहुत लोग वीडियो शूट करने के लिए स्मार्टफोन का इस्तेमाल कर रहे हैं लेकिन  सही जानकारी के अभाव में हम लोग  प्रोफेशनल वीडियो नहीं बना पाते ।

न्यूज़ चैनल के लिए वीडियो कैसे बनाया जाए ज्यादातर लोगों को इसकी जानकारी नहीं है। इस वीडियो में हम बता रहे हैं कि आप किस तरह से न्यूज़ वीडियो बना सकते हैं।

न्यूज़ चैनल के लिए वीडियो बनाने के लिए सबसे जरूरी है कि आप फोन को सही तरीके से पकडें । अक्सर लोग फोन को वर्टिकल यानी खड़ा करके शूट करते हैं जो गलत हैं। वर्टिकल फॉर्मेट न्यूज़ चैनल के लिए सही नहीं है।

अगर आपको न्यूज़ चैनल के लिए कोई वीडियो बनाना है तो अपने मोबाइल को हॉरिजॉन्टल यानी क्षितिज दिशा में पकड़ कर शूट करें।

वीडियो का अस्पेक्ट रेश्यो कितना हो

अगर आप यूट्यूब के लिए वीडियो बना रहे हैं तो उसका एस्पेक्ट रेश्यो 16:9 होना चाहिए। ऐसा इसलिए क्योंकि HD टेलीविजन सेट 16 अनुपात 9 वाले वीडियो फॉर्मेट का इस्तेमाल करते है।

ऑडियो क्वालिटी का खास खयाल रखें !

अगर आप प्रोफेशनल वीडियो शूट कर रहे हैं तो आपको उसकी ऑडियो क्वालिटी पर ध्यान देना होगा ।अगर आप किसी का बाईट या इंटरव्यू रिकॉर्ड कर रहे हैं तो उसके लिए आपको लैपल माइक्रोफोन इस्तेमाल करना होगा ताकि एंबिएंस यानी आसपास की फालतू आवाज वीडियो में रिकॉर्ड ना हो।

वीडियो फ्रेम और कैमरा स्थिर रखें 

आपका विषय आपके वीडियो फ्रेम के भीतर होना चाहिए । आपका मोबाइल फोन और कैमरा स्थिर रहना चाहिए । यानी शूट करते वक्त आपका कैमरा हिलना डुलना नहीं चाहिए ।इसके लिए आप सेल्फी स्टिक या फिर ट्राइपॉड का इस्तेमाल कर सकते हैं।

ध्यान रहे न्यूज़ वीडियोस में ज्यादा पैन और ज़ूम मूवमेंट का इस्तेमाल नहीं होता ।

वीडियो क्लिप और शॉट की अवधि

एक अच्छे शॉट की अवधि महज 6 सेकंड होती है ।अगर आप किसी विषय के अलग-अलग कोणों से वीडियो बना रहे हैं तो ध्यान रखें कि हर शॉट की अवधि 6 सेकेंड से ज्यादा ना हो।

ऐसा इसलिए भी जरूरी है ताकि आप छोटी -छोटी फाइल्स ईमेल या फिर जीपीआरएस का इस्तेमाल करके भेज सकें।

दोस्तो हमने पाया है कि ज्यादातर लोग वीडियो शूट करते वक्त मोबाइल फोन को गलत तरीके से पकड़ते हैं । हम इस वीडियो में आपको बता चुके हैं कि आपको मोबाइल फोन किस तरह से पकड़ना है। आपसे अनुरोध है कि आप इस वीडियो को ज्यादा से ज्यादा शेयर करें ताकि लोग सही तरीके से वीडियो शूट करने का का तरीका जान सके।

अगले वीडियो में हम आपको बताएंगे कि आप वीडियो को किस तरह से किस तरह से एडिट कर सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here